शेयर मार्केट क्या है? और इसकी शुरुआत कैसे करते हैं?

शेयर मार्केट क्या है? और इसकी शुरुआत कैसे करते हैं?

दोस्तों बहुत ही कैसी कम लोग होंगे जो भी शेयर मार्केट के बारे में नहीं जानते होंगे। क्योंकि आजकल ऐसे काफी सारे लोग पाए जाते हैं।जिन्होंने शेयर मार्केट को पैसे कमाने का जरिया भी बना लिया है। केंद्र भारत के अंदर नए नए निवेशकों की संख्या हर साल बढ़ती ही जाती है। पर उसकी अपेक्षा काफी सारे लोग ऐसे होते हैं।जो के शेयर मार्केट में निवेश करने से डरते हैं।

क्योंकि उनको लगता है।उनके साथ कहीं कुछ गड़बड़ ना हो जाए। या फिर उन्हें किसी प्रॉब्लम का सामना ना करना पड़ जाए अगर उन्हें शेयर मार्केट के बारे में सही से जानकारी प्राप्त नहीं है तो वह इस पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक पढ़ सकते हैं। उनकी सारी प्रॉब्लम्स इस पोस्ट को पढ़ने के बाद दूर हो जाएंगे। तो आइए आज कुछ नया सीख लेते हैं।

शेयर मार्केट की पूरी परिभाषा?

शेयर मार्केट का मतलब हिस्सेदारी होता है। यानी कि शेयर मार्केट को एक ऐसा मार्केट माना जाता है जहां पर आप किसी रजिस्टर्ड कंपनी के शेयर खरीद सकते हो एवं बेच सकते हो। और इन शेयरों को स्टॉक एक्सचेंज के मुताबिक खरीदते एवं बेचते हैं। भारत में मुख्यतः दो प्रकार के स्टॉक एक्सचेंज होते हैं।

• मुंबई स्टॉक एक्सचेंज

• नेशनल स्टॉक एक्सचेंज

आप किसी भी कंपनी में शेयर या फिर दादी खरीदने का सीधा अर्थ मतलब के आप उस कंपनी के कुछ हिस्सों के मालिक होते हैं। उदाहरण तौर पर कोई कंपनी 20% हिस्सेदारी बेचती है। और आप उसमें से 2% के मुताबिक खरीद लेते हैं। तो उस कंपनी के 2% हिस्से पर आपका हक हो जाता है।

शेयर मार्केट से पैसे कमाने के टिप्स ?

अगर आप कम से कम समय में ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाना चाहते हैं। तो आप को शेयर मार्केट के बारे में जरूर जाना चाहिए। लेकिन उससे पहले आप यह जानने के लिए इसमें थोड़ा रिस्क भी होता है। लेकिन आपने किसी कंपनी से अच्छे से एनालाइज कर लिया है। तो फिर आप शेयर मार्केट से पैसे कमा सकते हो।किसी भी कंपनी के शेयर की कीमत उषा कंपनी के द्वारा होने वाले लाभ एवं घाटे एवं शेयर की डिमांड और सप्लाई पर निर्भर होता है।

और इसी डिमांड एवं सप्लाई की वजह से शेयर मार्केट के अंदर शेयर की कीमत में बदलाव आते रहते हैं। अगर किसी शेयर का क्वार्टर ली प्रॉफिट एवं मार्केट ग्रोथ अच्छा होता है। तो फिर आप उस शेयर की डिमांड एवं सप्लाई को एनालाइज कर सकते हो। इसी के साथ साथ उसमें लंबे समय तक यह थोड़े समय तक टारगेट बनाने के मुताबिक निवेश कर सकते हो। एवं प्रॉफिट बुक कर सकते हो। एवं शेयर बेच सकते हो।

मान लो किसी कंपनी का फर्म का शेयर ₹10 होता है। तो आप उसके 1000 शेयर यानी कि ₹10000 की शेयर को खरीद लिया है। तो फिर मार्केट में उसकी ज्यादा मांग हो जाने पर एक हफ्ते पर उसे ₹14 का कर दिया जाता है। तू इस पर आपको ₹4 यानी कि ₹4000 का प्रॉफिट मिल सकता है।

शेयर मार्केट को शुरू कैसे करें?

अगर आप शेयर मार्केट में शुरुआत करना चाहते हैं। या फिर इसके अंदर करना चाहते हैं। तो इसके लिए आपको तीन बातों के बारे में जानना बेहद जरूरी है।

• ट्रेडिंग अकाउंट

• मार्केट एनालिसिस

• इन्वेस्टमेंट कैपिटल

(1) ट्रेडिंग अकाउंट

शेयर मार्केट के अंदर ट्रेडिंग करने के लिए आपको ट्रेडिंग अकाउंट की आवश्यकता पड़ती है। क्योंकि ट्रेडिंग अकाउंट एड बैंक अकाउंट के जैसे होता है। और उसका उपयोग शेयर खरीदने या फिर बेचने के लिए करते हैं। और जब कभी भी आप शेयर भेजते हो तो उसके पैसे आपको ट्रेडिंग अकाउंट में मिल जाते हैं। और दूसरी तरफ जब आप शेर खरीदोगे तो उस शेयर की कीमत आपको ट्रेडिंग अकाउंट से डेबिट कर दी जाती है।

(2) मार्केट एनालिसिस

अब दूसरा ऑप्शन होता है मार्केट एनालिसिस का जिसके अंदर आप किसी भी स्टॉक में इन्वेस्टमेंट से पहले उसके बारे में रिसर्च करना जरूरी है। उदाहरण के तौर पर किसी स्टॉक में आप निवेश कर रहे हैं। तो उसके लिए आपको कुछ चीजों के बारे में जानना बेहद आवश्यक होता है। जैसे-

• मार्केट कैपिटल

• लिक्विडिटी

• EPS

•P/B ratio

•P/E ratio

(3) इन्वेस्टमेंट कैपिटल

इसे कैपिटल को आपका वहां बजट मानते हैं। जिसका इस्तेमाल आप ट्रेडिंग करने के लिए करते हो।अगर आप भी एक निवेशक हैं।तो आप केवल लंबे समय स्टॉक के लिए ही निवेश करते हैं। अगर उसकी अपेक्षा दूसरी तरफ कोई जल्दी पैसे कमाना चाहता है। तो फिर आप शॉर्ट टर्म इन्वेस्टमेंट इंट्राडे ट्रेडिंग को स्टार्ट कर सकते हो।

मगर आपका इसके लिए रिस्क ऐपेटाइट बहुत ही बेहतर होना जरूरी है। कहने का मतलब है। आपको ऐसे ट्रेड में उतना ही कैपिटल उपयोग करना चाहिए। जिससे आपको किसी प्रकार का लॉस ना हो अगर हो भी तो आपको ज्यादा नुकसान ना हो पाए।

शेयर को कैसे खरीदा एवं बेचा जा सकता है?

अगर आप शेयर खरीदना या बेचना चाहते हैं।तो इसके लिए आप ब्रोकिंग प्लेटफार्म का वेब / मोबाइल एप्लीकेशन को ओपन कर लें। और जिस प्रोडक्ट को आप खरीदना या बेचना चाह रहे हैं। उसका नाम हो तो उसे सर्च बार में उस कंपनी के स्टॉक का नाम डाल देना है। यदि आप लोग स्टॉक बीएसई एवं एन एस ई मैं से किसी एक स्टॉक एक्सचेंज में खरीदना या बेचना चाह रहे हो।तो आप यह कर सकते हो।

Jay OP

Button text

अब शेयर खरीदने के लिए आपको हरे रंग के बाई वाले बटन पर क्लिक कर देना अगर आप उसे बेचना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सेल के ऑप्शन पर क्लिक करना पड़ता है। इतना करने के बाद आपको इसके अंदर कुछ चीजें भरनी पड़ती हैं। जो कि निम्नलिखित होती हैं।

(1) क्वांटिटी

इसके अंदर आपको No. ऑफ शेयर्स भरना पड़ता है। इसका मतलब होता है।कि आप इसे खरीदने या फिर बेचना चाह रहे हैं।

(2) मार्केट प्राइस

अगर आप लोग चाहते हैं कि फिलहाल में चल रहे भाव के कारण उसे खरीदा या बेचा जाए तो आप मार्केट प्राइस पर टाइप कर सकते हैं।

(3) कस्टम / लिमिट प्राइस

अगर आप खुद से तय किए गए भाव पर शेयर खरीदने या बेचने जा रहे हैं। तो इसके लिए आपको कस्टम लिमिट प्राइस पर क्लिक करना होता है। और जो भाव आपके मन में आया है। वह भी डालना पड़ता है। और जैसे ही शेयर की कीमत इस भाव पर आती है।तो आपका ऑर्डर एक्स क्यूट कर दिया जाता है।

(4) डिलीवरी/ इंट्राडे

यदि आप चाहते हैं कि शेयर को एक से अधिक दिन तक रखा जाए तो आपको शेयर डिलीवरी में खरीदना पड़ता है। और उसके दूसरी तरफ अगर आप उसे उसी दिन खरीदना या बेचना चाहते हो तो उसके लिए आपको इंट्राडे मैं शेर खरीदना पड़ता है।

जानिए Amo order के बारे में?

साथियों इसका मतलब आफ्टर मार्केट आर्डर होता है। मतलब कि जब शेयर मार्केट बंद हो जाए तो आप इसे खरीदने या बेचने के लिए आर्डर पर लगा सकते हो। शेयर मार्केट में आम ट्रेडिंग डे में सुबह के टाइम पर 9:15 बजे से शाम 3:15 बजे तक खुलता है। और इस समय को एक ट्रेडिंग डे मानते हैं। के बाद आप ना तो कोई शेयर खरीद सकते हो और ना ही बेच सकते हो। 3:15 बजे के बाद आप सिर्फ IMO ऑर्डर में ही शेयर खरीद या बेच पाओगे। जिसे अगले ट्रेडिंग में एक्सक्यूट कर दिया जाता है।

निष्कर्ष

तो साथियों हमने आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताया है कि शेयर मार्केट क्या होता है?और आप इससे कैसे कर सकते हैं? हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आपको बेहद पसंद आई हुई और इससे आपको लाभ भी जरूर मिला होगा। अगर इससे आपको थोड़ा सा भी फायदा हुआ हो तो इसे आप आगे तक भी शेयर कर सकते हैं। अगर इस पोस्ट से आपके कोई सवाल है। तो अब मैं कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं धन्यवाद।

Leave a Comment