Internet kya hai – full information 2022

0
16286

Internet kya hai – full information 2022

दोस्तों इस दुनिया में लाखों-करोड़ों लोग इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहे हैं परंतु उनमें से कई लोगों को तो यह भी नहीं पता है कि इंटरनेट क्या है अर्थात इसकी एकदम सटीक परिभाषा क्या है और इसके फायदे एवं नुकसान क्या है एवं इसका इतिहास क्या है? तो दोस्तों आज हम इस जानकारी के अंदर इंटरनेट से संबंधित हर वह जानकारी देंगे जो आपको जाननी आवश्यक है।

यदि आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तब आपको इसके बारे में संपूर्ण जानकारी भी होनी चाहिए। आज इस आर्टिकल के जरिए मैं तुम्हें बताऊंगा internet kya hai? Internet ki full form, Internet ke loss And benefits, इंटरनेट की खोज किसने एवं कब की एवं अन्य जानकारियां। तो इसलिए आपको यह पोस्ट अंत तक पढ़नी है तभी आप इंटरनेट के बारे में संपूर्ण जानकारी जान सकेंगे और इसके इतिहास को भी अच्छी तरह से समझ सकेंगे। तो चलिए दोस्तों चलते हैं इस पोस्ट के अंदर।

Internet kya hai ?

दोस्तों यदि आप नहीं जानते हैं कि इंटरनेट क्या है तो तुम्हें बता दूं इंटरनेट एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर को कनेक्ट करने का कार्य करता है और आप इसी कंप्यूटर को अपने स्मार्टफोन अर्थात मोबाइल या फिर अन्य डिवाइस जो कि इंटरनेट के साथ जुड़े हैं उसकी सहायता से आप कोई भी सर्वर या कंप्यूटर पर जा सकते हैं। मेरे ख्याल से अब आप शायद यह सोच रहे होंगे कि सर्वर क्या होता है तो आपको बता दूं सर्वर अर्थात एक ऐसा कंप्यूटर जो अपने कंप्यूटर को इंटरनेट से सदैव जुड़े हुए रखता है। वहां से अन्य दूसरे लोग डाटा को देख सकें या फिर हम अपने कंप्यूटर में उस डाटा को सुरक्षित तरीके से डाउनलोड कर सकते हैं। तो ऐसे कंप्यूटर को सर्वर कहा जाता है।

वर्तमान समय की बात की जाए तो इस संसार में अनेकों सर्वर उपलब्ध हैं और अब वर्तमान समय में सर्वर बनाना या फिर सर्वर खरीदना काफी आसान हो गया है। चलिए दोस्तों इस बात को मैं आपको एक उदाहरण देकर समझाता हूं।

जैसे अभी जो तुम इस पोस्ट को पढ़ रहे हो तो उसमें आप जानते हैं कि आपके इंटरनेट का इस्तेमाल किया जा रहा है तभी आप यहां तक पहुंच सके हैं और इंटरनेट के इस्तेमाल से आप हमारे वेब ब्राउज़र के माध्यम से सर्वर के डाटा को देख रहे हैं। दोस्तों इतना तो हम सभी जानते हैं कि इस संसार में एकाध जगह को छोड़कर हर जगह पर इंटरनेट का प्रयोग होता है।

मित्रों शायद आपको नहीं पता है कि इंटरनेट का बहुत बड़ा भाग जिसको तुम अपने इस साधारण ब्राउज़र से नहीं देख सकते उसका नाम Dark Webहै। जी हां दोस्तों आप इसे साधारण ब्राउज़र से नहीं देख सकेंगे। आपको बता दूं कि यह इंटरनेट का बहुत ही ज्यादा सुरक्षित (secure) भाग है।

यह तुम्हें सर्च इंजन पर भी नहीं मिलेगा लेकिन आप कुछ ब्राउज़र की सहायता से इस वेबसाइट तक पहुंच भी सकते हैं। तो दोस्तों यह तो हो गया इंटरनेट का फंडा, कि इंटरनेट क्या है तो यह बात आप अच्छी तरह से जान चुके होंगे अब हम आगे बढ़ते हैं।

Internet ki ful form –

दोस्तों जहां तक मेरा ख्याल है आप में से कुछ लोगों को इंटरनेट की फुल फॉर्म के बारे में भी नहीं पता होगा तो आपको बता दूं कि इस की फुल फॉर्म होती है ‘interconnected network’ वहीं यदि इसकी हिंदी में फुल फॉर्म की बात की जाए तब इसकी फुल फॉर्म होती है “परस्पर नेटवर्क”जो किया बड़ा नेटवर्क होता है और इस संसार में एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस तक डाटा को प्रोत्साहने का काम करता है। अब आप इसकी हिंदी और अंग्रेजी में फुल फॉर्म भी जान चुके हैं। तो अब हम आगे बढ़ते हैं और आपको इसके इतिहास के बारे में बताते हैं।

इंटरनेट की खोज कब और किसने की ?

दोस्तों क्या आपको इंटरनेट की खोज के बारे में मालूम है कि इसकी खोज कब और किसने की, यदि आपको नहीं मालूम है तब भी कोई परेशानी वाली बात नहीं है क्योंकि यह बात भी सही है कि व्यक्ति को हर चीज आना जरूरी थोड़े ही है, पर वह कुछ माध्यमों से उसके बारे में जानकारी कर सकता है । तो इसीलिए अब हम जब आप इस जानकारी को पढ़ ही रहे हैं तब हम आपको बताएंगे कि इंटरनेट की खोज किसने और कब की।

दोस्तों सबसे पहली बात तो यह है कि आप एक बात दिमाग से निकाल दें कि इसका मालिक कोई एक ही व्यक्ति होगा क्योंकि यह बात आप भी जानते हैं कि यह इतना बड़ा नेटवर्क है तो इसका कोई एक मालिक नहीं हो सकता है और इसकी खोज करने वाला भी कोई एक व्यक्ति नहीं है।

तो आपको बता दूं कि 1957 में अमेरिका ने (ARPA) advanced research projects agency की स्थापना की जिसका मुख्य उद्देश्य ऐसी टेक्नोलॉजी का निर्माण करना था जो कि एक कंप्यूटर को दूसरे कंप्यूटर से जोड़ने का कार्य करें।

दोस्तों जैसा कि आपको पता ही होगा कि 1945 में शीत युद्ध शुरू हो गया था और यह युद्ध सोवियत संघ एवं अमेरिका के मध्य हुआ था तो इसी बीच सन 1960 शीत युद्ध के दौरान बहुत सी जानकारियां गुप्त मार्ग से अधिक तीव्र गति से भेजना बहुत आवश्यक हो गया था। इसीलिए इंटरनेट का आविष्कार बहुत ही तीव्र गति से एवं कुछ अच्छे ढंग से किया गया जिससे जल्दी से जल्दी कोई भी डाटा कहीं भी भेजा जा सके और इसीलिए इस नेटवर्क को धीरे-धीरे करके और फीचर्स के साथ तैयार किया गया। इस पर खूब मेहनत की गई और कुछ समय पश्चात 1969 में एडवांस रिसर्च प्रोजेक्ट एजेंसी द्वारा इंटरनेट की स्थापना हुई तब से हर कंप्यूटर को एक अन्य कंप्यूटर से जोड़ा जा सकता है।

यदि तुम सोच रहे हो कि तभी से इसे इंटरनेट कहा जाने लगा होगा तो ऐसा नहीं है आपको बता दूं इसे इंटरनेट नामक संज्ञा सन 1980 में आते आते मिली थी मेरा कहने का मतलब है कि इंटरनेट के नाम से इसे 1980 में जाना जाने लगा। इसके बाद IP/TCP का निर्माण हुआ और धीरे-धीरे ईमेल नेटवर्क अभी बनने लग गया। और आगे बड़ी-बड़ी व्यवसाय में बनने लगी। और तब जाकर ‘सर्च इंजन’ का निर्माण हुआ।

तो दोस्तों यह तो अमेरिका देश के इंटरनेट की शुरुआती दौर की संपूर्ण कहानी हो गई अब हम बात करेंगे कि हमारे भारत में इंटरनेट की शुरुआत कब हुई थी तो दोस्तों आपको बता दूं हमारे भारत में 1995 में इंटरनेट की शुरुआत हुई, मेरा कहने का मतलब है 1995 में भारत में इंटरनेट आया था और तब हमारे यहां इंटरनेट की गति 9kbps से 10kbps थी, जो कि धीरे-धीरे इंटरनेट के उपयोग के अनुसार बढ़ा दी गई और धीरे-धीरे इस पर खूब सारे कंटेंट आने लगे और अनेक लोगों ने यहां पर वेबसाइट बनाना शुरू कर दिया।

आज भारत में इसकी स्थिति कैसी है यह हमें आपको बताने की जरूरत नहीं है अर्थात यह बात आप अच्छी तरह से जानते हैं कि अब इंटरनेट पर भारत ने भी खूब फोकस किया है और इस पर काम करके लोग हजारों लाखों रुपए कमा रहे हैं। इसके अलावा भी भारत के लोगों के यहां पर अनेकों अनेक कार्य चल रहे हैं। जिससे भारत के लोगों की आय एवं टेक्नोलॉजी में काफी वृद्धि हो रही है।

इंटरनेट के लाभ और हानियां (फायदे और नुकसान) –

इंटरनेट के फायदे –

दोस्तों जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हर चीज में अच्छाई के साथ बुराई पाई जाती है और लाभ के साथ हानि पाई जाती हैं हां यह बात अलग हो सकती है कि किसी वस्तु में लाभ अधिक हो और हानियां कम हो या फिर विपरीत स्थिति भी पाई जाती है कहानियां ज्यादा हो और लाभ कम तो इसी प्रकार इंटरनेट के भी कुछ लाभ एवं हानियां हैं अर्थात इसके फायदे और नुकसान, आज हम उनके बारे में भी आपको बताएंगे कि यदि आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तो आप को क्या-क्या लाभ होंगे और क्या-क्या हानियां हो सकती हैं। दोस्तों वैसे इसकी काफी सारी हानियां और लाभ हैं परंतु मैं आपको कुछ ही लाभ और हानियों के बारे में बताऊंगा जिससे आपको यह अंदाजा लग जाएगा कि इंटरनेट से हमें क्या-क्या फायदे होते हैं और क्या-क्या नुकसान होते हैं।

मोबाइल या कंप्यूटर के माध्यम से किसी से बात करनी हो –

दोस्तों आप कंप्यूटर अथवा मोबाइल की सहायता से किसी से भी वीडियो कॉल कर सकते हैं परंतु इसमें आपको इंटरनेट की आवश्यकता होती है जिसकी सहायता से आप दूसरे लोगों से बड़ी आसानी से वीडियो कॉल कर सकते हैं जैसे कि व्हाट्सएप के माध्यम से आप वीडियो कॉल कर सकते हैं या फिर फेसबुक से भी आप वीडियो कॉल कर सकते हैं परंतु यहां आपको इंटरनेट की आवश्यकता होती है तो एक प्रकार से यह इंटरनेट का लाभ होता है कि आप यहां से अपने दोस्तों या फिर रिश्तेदार के साथ वीडियो कॉल कर सकते हैं।

ऑनलाइन किसी को भी पैसा भेजना हो –

इस सुविधा का लाभ सभी लोग उठाते हैं और उठा भी रहे हैं तो जैसा कि आपको भी पता होगा कि जब भी हम किसी को पैसे भेजते हैं तब हमें इंटरनेट की आवश्यकता होती है। तो इस प्रकार इंटरनेट की सहायता से आप किसी को भी और कहीं भी पैसे भेज सकते हैं या फिर मंगा सकते हैं। तो यह है इंटरनेट से फायदे की बात।

ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं –

जैसा कि आप सब जानते हैं कि पहले लोग ऑफलाइन ज्यादा कमाई करते थे वहीं आजकल लोग ऑनलाइन खूब कमाई कर रहे हैं तो इसका मुख्य कारण है इंटरनेट । जी हां दोस्तों , इंटरनेट की सहायता से लोग अपने घर बैठ कर ही पैसे कमा रहे हैं इस बात में कोई शक नहीं है। और इसकी वजह से लोग अपने बिजनेस को भी ऑनलाइन करके खूब सर पैसे कमा रहे हैं। तो यहां से भी आपको अंदाजा हो गया होगा कि इंटरनेट से आपको कितना लाभ हो रहा है।

Nadex gaming

इंटरनेट की मदद से पढ़ाई करना – जहां पढ़ाई ऑफलाइन हुआ करती थी वहीं आजकल पढ़ाई भी ऑनलाइन आ गई है अर्थात लोग ऑनलाइन पढ़ना ज्यादा पसंद करते हैं और पढ़ें भी क्यों ना क्योंकि यहां पर उन्हें खूब एजुकेट टीचर द्वारा पढ़ाया जाता है ‌। इस बात में भी कोई शक नहीं है कि ऑनलाइन पढ़ाई ऑफलाइन पढ़ाई से काफी बेहतर है। आजकल लोग यूट्यूब पर या फिर गूगल पर या फिर अन्य प्लेटफार्म का इस्तेमाल करके ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं।

तो इसमें यदि बात की जाए की मुख्य भूमिका किसकी है तो आपको बता दूं कि यहां पर मुख्य भूमिका इंटरनेट की है। तो दोस्तों मैंने आपको कुछ लाभ बता दिए हैं वैसे आपको सच बताऊं तो यह लाभ तो कुछ नहीं है इसके अलावा भी आपको खूब सारे इसके लाभ देखने के लिए मिल जाएंगे। अब हम इसकी कुछ हानियों के बारे में भी बात कर लेते हैं।

इंटरनेट से हानियां – वैसे आपको बता दूं कि इंटरनेट के फायदे तो अनेकों है परंतु कुछ हानियां भी है। जिनमें से कुछ हानियां आपके ऊपर भी डिपेंड करती है। कहने का मतलब है कि आप इंटरनेट का प्रयोग यदि अपने उचित काम के लिए करते हैं तब आपके लिए इसकी हानियां और भी कम है।

इंटरनेट से आपको कोई भी घर बैठे बर्बाद कर सकता है –

दोस्तों जैसा कि आपको बता दूं कुछ लोग इसका इस्तेमाल कुछ गलत कार्य करने के लिए भी करते हैं जैसे वे आपके अकाउंट को हैक करने की कोशिश करते हैं और यदि इसमें सफल होते हैं तो तुम्हारे खाते से पैसे निकल जाते हैं तो इस प्रकार से इंटरनेट से हमें हानि भी होती है।

समय की बर्बादी –

दोस्तों जैसा कि आजकल हम देख रहे हैं कि लोग आजकल इंटरनेट की वजह से अपना समय भी बर्बाद कर रहे हैं अर्थात फालतू वीडियोस देखकर या फिर अन्य प्रकार से इंटरनेट का गलत इस्तेमाल करके अपना समय बर्बाद कर रहे हैं। दोस्तों जैसा कि हम जानते हैं कि इंटरनेट पर खूब कंटेंट पड़े हैं जिनमें से कुछ कंटेंट आपके काम के हैं परंतु उससे भी ज्यादा फालतू और सबसे ज्यादा फालतू कंटेंट को देखा जा रहा है तो इससे साफ जाहिर होता है कि अनेकों लोग ऐसे हैं जो इंटरनेट का गलत इस्तेमाल करके अपने समय को बर्बाद कर रहे हैं।

इंटरनेट पर मिलने वाली सभी जानकारियां सही नहीं होती -तो आपको बता दूं कि कुछ लोग यह मानते हैं कि इंटरनेट पर कोई भी जानकारी झूठी नहीं होती या फिर गलत नहीं होती तो आपको बता दूं कि आप इस गलतफहमी में कभी ना रहे क्योंकि इंटरनेट पर भी आपको अनेकों गलत जानकारियां मिल जाएंगे अतः आप उन पर संपूर्ण रुप से विश्वास न करें।

इस प्रकार से हमने आपको इंटरनेट से होने वाले कुछ लाभ एवं हानियों के बारे में बता दिया है।

दोस्तों हम आशा करते हैं यह जानकारी तुम्हें पसंद आई होगी यदि आपको इससे संबंधित अन्य कोई जानकारी चाहिए तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं। दोस्तों हम चाहेंगे कि आप इस जानकारी को सोशल मीडिया पर भी अवश्य शेयर करें। धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here